बुद्धिमान जीव के रूप में प्रसिद्ध है, विशाल प्रशांत ऑक्टोपस

लखनऊ

 14-11-2020 02:30 PM
मछलियाँ व उभयचर
विशाल प्रशांत ऑक्टोपस (Octopus) किसी भी अन्य ऑक्टोपस प्रजातियों की तुलना में अधिक बड़ा होता है, और अधिक समय तक जीवित रहता है। इसके नमूने का आकार 30 फीट और वजन 600 पाउंड (Pound) से अधिक (270 किलोग्राम) दर्ज किया गया था। इनकी लंबाई और वजन औसतन 16 फीट और 110 पाउंड (95 किग्रा) है। यह बहुत ही बुद्धिमान जीव है, तथा मर्तबानों को खोलना, अन्य ऑक्टोपस की नकल करना और प्रयोगशाला परीक्षणों में भूल भुलैया को हल करना, जैसी गतिविधियों को सीखे हुए होते हैं। उनकी जनसंख्या अज्ञात है, और वे वर्तमान में लुप्तप्राय या संकटग्रस्त जानवरों की सूची में भी दिखाई नहीं देते हैं। लेकिन वे पर्यावरण की स्थिति के प्रति संवेदनशील हैं, और अपनी सीमा में उच्च प्रदूषण स्तर से पीड़ित हो सकते हैं। विशाल प्रशांत ऑक्टोपस को अपने विशिष्ट लाल-गुलाबी रंग से पहचाना जाता है। ऑक्टोपस में त्वचा की सतह के ठीक नीचे क्रोमैटोफोरस (Chromatophores) नामक विशेष वर्णक कोशिकाएं होती हैं, जो इसे रंग बदलने और चट्टानी परिवेश के साथ मिश्रित होने में मदद करता है। ऑक्टोपस वास्तव में मोलस्क (Mollusks) हैं - उनके खोल (Shells), दो छोटी सतह के रूप में सिर में स्थित होते हैं और उनके शरीर के बाकी हिस्से नरम हैं। चूंकि उनके पास एक सुरक्षात्मक बाहरी खोल की कमी है, इसलिए विशाल प्रशांत ऑक्टोपस, सुरक्षित रहने के लिए अपनी छलावरण क्षमताओं का उपयोग करते हैं। जब उनको खतरा महसूस होता है, तो वे काली स्याही भी शिकारियों पर छोड़ सकते हैं। स्याही जहरीली होती है, और ऑक्टोपस के लिए घातक हो सकती है, यदि वह कम धारा प्रवाह के साथ एक छोटी सी जगह तक सीमित हो। विशालकाय प्रशांत ऑक्टोपस अपने जीवन का अधिकांश समय अकेले बिताते हैं। वे भोजन के लिए झींगों, मछलियों इत्यादि पर निर्भर हैं, लेकिन अपने चोंच जैसे मुंह का उपयोग करके छोटी शार्क (Sharks) को भी खा सकते हैं। अपनी आठ भुजाओं के साथ, ऑक्टोपस में तीन हृदय और नौ मस्तिष्क होते हैं। तीन में से दो हृदय रक्त को गलफड़ों में पंप (Pump) करते हैं, जबकि तीसरा रक्त को शरीर के बाकी हिस्सों में प्रसारित करता है। ऑक्टोपस अपने एक मस्तिष्क का उपयोग तंत्रिका तंत्र को नियंत्रित करने और प्रत्येक भुजा में एक छोटे मस्तिष्क का उपयोग अपनी गति को नियंत्रित करने के लिए करता है। ऑक्टोपस सहित विशालकाय प्रशांत ऑक्टोपस के शरीर में नीला रक्त होता है, क्योंकि उनके रक्तप्रवाह में हेमोसाइनिन (Hemocyanin) नामक तांबे से समृद्ध प्रोटीन (Protein) है, जो ठंडे समुद्र के वातावरण में ऑक्सीजन (Oxygen) परिवहन में सहायता करता है। विशालकाय प्रशांत ऑक्टोपस केवल चार से पांच साल तक जीवित रहते हैं, फिर भी उन्हें सबसे लंबे समय तक रहने वाले ऑक्टोपस प्रजातियों में से एक माना जाता है। ऑक्टोपस आमतौर पर प्रजनन के बाद शीघ्र ही मर जाते हैं। संभोग के बाद, मादा एक गहरी गुफा में 74,000 या उससे अधिक अंडे देती है और सात महीने तक उनको सेंकती है। इस समय के दौरान, मादाएं भोजन के लिए कोई प्रयास नहीं करती और युवाओं के अंडे से बाहर आते ही मर जाती हैं। इस व्यवहार के कारण, विशालकाय प्रशांत ऑक्टोपस की जनसंख्या जानना मुश्किल है। भले ही ऑक्टोपस उत्तरी अमेरिका और जापान दोनों में भोजन और चारे के लिए व्यावसायिक रूप से मारे जाते हैं, लेकिन इनकी आबादी अभी भी प्राकृतिक रूप से बनी हुई है।
संदर्भ:
https://www.youtube.com/watch?v=yuYNw3G6ZMY
https://oceana.org/marine-life/cephalopods-crustaceans-other-shellfish/giant-pacific-octopus


RECENT POST

  • लखनऊ की वृद्धि के साथ हम निवासियों को नहीं भूलना है सकारात्मक पर्यावरणीय व्यवहार
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     19-05-2022 09:47 AM


  • एक समय जब रेल सफर का मतलब था मिट्टी की सुगंध से भरी कुल्हड़ की स्वादिष्ट चाय
    म्रिदभाण्ड से काँच व आभूषण

     18-05-2022 08:47 AM


  • उत्तर प्रदेश में बौद्ध तीर्थ स्थल और उनका महत्व
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     17-05-2022 09:52 AM


  • देववाणी संस्कृत को आज भारत में एक से भी कम प्रतिशत आबादी बोल व् समझ सकती है
    ध्वनि 2- भाषायें

     17-05-2022 02:08 AM


  • बाढ़ नियंत्रण में कितने महत्वपूर्ण हैं, बीवर
    व्यवहारिक

     15-05-2022 03:36 PM


  • प्रारंभिक पारिस्थिति चेतावनी प्रणाली में नाजुक तितलियों का महत्व, लखनऊ में खुला बटरफ्लाई पार्क
    तितलियाँ व कीड़े

     14-05-2022 10:09 AM


  • लखनऊ सहित विश्व में सबसे पुराने और शानदार स्विमिंग पूलों या स्नानागारों का इतिहास
    य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

     13-05-2022 09:41 AM


  • भारत में बढ़ती गर्मी की लहरें बन रही है विशेष वैश्विक चिंता का कारण
    जलवायु व ऋतु

     11-05-2022 09:10 PM


  • लखनऊ में रहने वाले, भाड़े के फ़्रांसीसी सैनिक क्लाउड मार्टिन का दिलचस्प इतिहास
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     11-05-2022 12:11 PM


  • तेजी से उत्‍परिवर्तित होते वायरस एक गंभीर समस्‍या हो सकते हैं
    कीटाणु,एक कोशीय जीव,क्रोमिस्टा, व शैवाल

     10-05-2022 09:02 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id