शक्तिशाली घूर्णन रूप में चलते हुए काफी विनाश करने में सक्षम होते हैं बवंडर

रामपुर

 01-05-2022 12:40 PM
जलवायु व ऋतु
प्राकृतिक आपदाएं जहां कहीं भी किसी भी रूप में आती हैं वहाँ काफी व्यापक रूप से क्षति पहुंचाती हैं। हालांकि प्राकृतिक आपदाओं को आने से ना कोई एकदम से रोक सका है और ना ही इनके आने का कोई सटीक अनुमान लगाया जा सकता है। ऐसे ही हवा का हिंसक तेज झोंका बवंडर का एक सिरा गरज वाले बादलों में होता है तो दूसरा जमीन पर तथा यह एक शक्तिशाली घूर्णन रूप में चलते हुए, ठोस निर्मित संरचनाओं को पूरी तरह से नष्ट करने, पेड़ों को उखाड़ने और घातक मिसाइलों की तरह हवा के माध्यम से वस्तुओं को फेंकने में सक्षम होते हैं। बवंडर तब उत्पन्न होते हैं जब गर्म, नम हवा ठंडी, शुष्क हवा से टकराती है। घनी ठंडी हवा आमतौर पर आंधी के साथ गर्म हवा के ऊपर धकेल दी जाती है। गर्म हवा ठंडी हवा के माध्यम से ऊपर उठती है, जिससे अपड्राफ्ट (Updraft) उत्पन्न होता है। यदि हवा की गति या दिशा में तेज परिवर्तन होता है, तो अपड्राफ्ट घूमना शुरू हो जाता है। भारत में 1838 से 2001 के बीच बंगाल क्षेत्र में कुल 86 बवंडर आए। इसके विपरीत, उत्तर पश्चिम भारत और पाकिस्तान ने वर्ष 1903 और 2012 के बीच केवल 15 बवंडर देखे हैं।

संदर्भ :-
https://bit.ly/3Fa2gOn
https://bit.ly/3ksNGbh


RECENT POST

  • प्रकृति में सहजीवन की अनोखी कहानियां, आश्रय के लिए बबूल चींटियां बन जाती हैं बबूल के पेड़ की अंगरक्षक
    व्यवहारिक

     29-05-2022 01:42 PM


  • वस्त्र उद्योग का कायाकल्प करने, सरकार की उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन और टेक्सटाइल पार्क योजनाएं
    स्पर्शः रचना व कपड़े

     28-05-2022 09:12 AM


  • भारत में क्यों बढ़ रही है वैकल्पिक ईंधन समर्थित वाहनों की मांग?
    य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

     27-05-2022 09:21 AM


  • फ़ूड ट्रक देते हैं बड़े प्रतिष्ठानों की उच्च कीमतों की बजाय कम कीमत में उच्‍च गुणवत्‍ता का भोजन
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     26-05-2022 08:24 AM


  • रामपुर से प्रेरित होकर देशभर में जल संरक्षण हेतु निर्मित किये जायेगे हजारों अमृत सरोवर
    नदियाँ

     25-05-2022 08:08 AM


  • 102 मिलियन वर्ष प्राचीन, अफ्रीकी डिप्टरोकार्प्स वृक्ष की भारत से दक्षिण पूर्व एशिया यात्रा, चुनौतियां, संरक्षण
    पेड़, झाड़ियाँ, बेल व लतायें

     24-05-2022 07:33 AM


  • भारत में कोयले की कमी और यह भारत में विभिन्न उद्योगों को कैसे प्रभावित कर रहा है?
    खनिज

     23-05-2022 08:42 AM


  • प्रति घंटे 72 किलोमीटर तक दौड़ सकते हैं, भूरे खरगोश
    व्यवहारिक

     22-05-2022 03:30 PM


  • अध्यात्म और गणित एक ही सिक्के के दो पहलू हैं
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     21-05-2022 11:15 AM


  • भारत में प्रचिलित ऐतिहासिक व् स्वदेशी जैविक खेती प्रणालियों के प्रकार
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     20-05-2022 09:59 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id