वैकल्पिक मतदान क्या है और क्यों विकासोन्मुखी देश इसके पक्षधर हैं

रामपुर

 29-05-2019 12:17 PM
विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

यह बात थोड़ी हैरान कर सकती है कि दुनिया के विभिन्न लोकतंत्रों में मतदान के लिए भिन्न-भिन्न विकल्प अपनाये जाते हैं और अधिकतर विकासोन्मुखी देश ‘वैकल्पिक मतदान’ या ‘इंस्टेंट रनऑफ वोटिंग’ (Instant Runoff Voting) से चुनाव कराने के पक्ष में हैं। हालांकि आज कई देशों ने इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग (Electronic Voting) का तरीका अपना रखा है और इस मामले में निस्संदेह भारत अग्रणी है। परंतु वर्तमान में ईवीएम में छेड़छाड़ की आशंका को लेकर गहरी बहस छिड़ी हुई है। भारत में अभी तक तो चुनावों में वैकल्पिक वोटिंग का तरीका नहीं अपनाया गया है। पर क्योंकि रामपुरवासी हाल ही में राष्ट्रीय चुनावों में अपने मतदान से गुजरे हैं, तो चलिये जानते हैं कि आखिरकार ये वैकल्पिक मतदान क्या है और क्यों विकासोन्मुखी देश इसके पक्षधर है और यह कैसे काम करता है?

इसे रैंक्ड चॉइस वोटिंग (Ranked choice voting- RCV) के नाम से भी जाना जाता है। इस मतदान प्रणाली में मतदाता उम्मीदवारों को रैंक करते हैं। इसमें एक मतदाता एक ही वोट देता है, लेकिन वह सभी उम्मीदवारों में से अपनी प्राथमिकता तय करता है। साधारण शब्दों में कहा जाये तो यदि चुनाव में तीन उम्मीदवार हैं तो मतदाता अपनी प्राथमिकता के अनुसार क्रमबद्ध तरीके से उम्मीदवारों का चुनाव करते हैं। मतदान देने वाले को बैलट पेपर (Ballot Paper) पर अपनी पसंद को पहले, दूसरे तथा तीसरे क्रमानुसार बताना होता है।

इसमें मतदाता सभी उम्मीदवारों में से अपनी प्राथमिकता तय कर देता है। यानी वह बैलट पेपर पर बता देता है कि उसकी पहली पसंद कौन है और दूसरी, तीसरी कौन। इसमें पहले केवल पहली प्राथमिकता के वोटों को शुरू में गिना जाता है। यदि पहली प्राथमिकता वाले उम्मीदवार को 50% से अधिक वोट प्राप्त हुये हैं तो वो जीत जाता है। और यदि ऐसा नहीं होता है, तो फिर सबसे आखिरी प्राथमिकता वाले उम्मीदवार को बाहर कर दिया जाता है और उसके वोट बाकी बचे उम्मीदवारों में बांटे जाते हैं। अतः वोटों को पुनः गिना जाता है। यह तब तक जारी रहता है जब तक कि मतगणना में किसी एक उम्मीदवार के पास 50% या उससे अधिक वोट न हों। यदि कोई मतदाता सिर्फ एक उम्मीदवार के लिए वोट करता है, तो उसका वोट अन्य उम्मीदवारों के लिये नहीं गिना जाएगा।

वर्तमान में वैकल्पिक मतदान प्रणाली का उपयोग ऑस्ट्रेलिया में संसदीय चुनाव और आयरलैंड में राष्ट्रपति चुनावों एवं भारत के राष्ट्रपति और विधान परिषदों के सदस्य के चुनावों लिए किया जाता है। इसी प्रकार के एक ऐसी ही अन्य मतदान प्रणाली का उपयोग श्रीलंका में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव के लिये किया जाता है।

संदर्भ:
1. https://www.britannica.com/topic/alternative-vote
2. https://en.wikipedia.org/wiki/Instant-runoff_voting
3. https://www.bbc.com/news/uk-politics-12892836
4. https://www.popularmechanics.com/technology/a23629/better-ways-to-vote/



RECENT POST

  • मुरादाबाद के पीतल की शिल्प का भविष्य
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     02-07-2020 11:48 AM


  • रामपुर में इत्र की महक
    गंध- ख़ुशबू व इत्र

     01-07-2020 01:13 PM


  • पृथ्वी के सबसे बड़े खतरों में से एक है 'क्षुद्रग्रह' का पृथ्वी से टकराना
    खनिज

     30-06-2020 06:30 PM


  • क्या है, भारतीय इतिहास में मुद्रा शास्त्र की भूमिका
    म्रिदभाण्ड से काँच व आभूषण

     29-06-2020 12:30 PM


  • हिंदी फिल्म अकेले हम और हॉलीवुड की फिल्म द गॉडफ़ादर के मध्य का सम्बन्ध
    ध्वनि 1- स्पन्दन से ध्वनि

     28-06-2020 12:30 PM


  • रामपुर का लजीज यखनी पुलाव
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     27-06-2020 10:10 AM


  • मनुष्य के अस्तित्व में अकेलेपन की भूमिका
    व्यवहारिक

     26-06-2020 09:45 AM


  • रामपुर कालीन उद्योग की कहानी में है, काफी धूप-छाँव
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     25-06-2020 01:50 PM


  • क्या है स्वादिष्ट और लोकप्रिय फल खजूर और उसके वृक्ष की कहानी ?
    पेड़, झाड़ियाँ, बेल व लतायें

     24-06-2020 11:55 AM


  • समाज की गतिशीलता को बेहतर ढंग से समझने में मदद करता है जनसंख्या अध्ययन
    सिद्धान्त 2 व्यक्ति की पहचान

     23-06-2020 01:10 PM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.