ग्रामीण क्षेत्रों में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं का आंकड़ा तीव्रता से शहरी आंकड़ों को देता टक्‍कर

मेरठ

 30-05-2022 08:42 AM
संचार एवं संचार यन्त्र

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई (TRAI)) द्वारा दर्शाया गया कि देश में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की कुल संख्या दिसंबर 2020 के अंत में 795.18 मिलियन से बढ़कर मार्च 2021 के अंत में 825.30 मिलियन हो गई, जिसने 3.79 प्रतिशत की तिमाही वृद्धि दर दर्ज की। इन 825.30 मिलियन इंटरनेट ग्राहकों में से वायर्ड इंटरनेट (wired Internet) उपयोगकर्ताओं की संख्या 26 मिलियन है और वायरलेस (wireless) ग्राहकों की संख्या 799.31 मिलियन है।सब्सक्राइबर (subscriber) आधार में ब्रॉडबैंड इंटरनेट उपयोगकर्ता (778.09 मिलियन) और नैरोबैंड इंटरनेट (Narrowband Internet) उपयोगकर्ता (47.21 मिलियन) शामिल हैं। इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (आईएएमएआई) (Internet and Mobile Association of India (IAMAI)) और कंसल्टिंग फर्म (consulting firm) कांतार (Kantar) द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार, भारत का ग्रामीण इंटरनेट उपयोगकर्ता आधार तीन गुना तेजी से बढ़ रहा है और शहरी उपयोगकर्ता आधार को पार करने के लिए तेजी से बढ़ रहा है।
रिपोर्ट में कहा गया है, "जहां शहरी भारत में इंटरनेट उपयोगकर्ता 4% की वृद्धि के साथ 2020 में 323 मिलियन उपयोगकर्ताओं तक पहुंच गए, वहीं ग्रामीण भारत द्वारा डिजिटलीकरण अपनाने को बढ़ावा दिया जा रहा है - पिछले एक साल में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं में 13% की वृद्धि दर्ज की गई है।"2020 में ग्रामीण इंटरनेट उपयोगकर्ता आधार 299 मिलियन था।2020 में भारत में 622 मिलियन सक्रिय इंटरनेट उपयोगकर्ता थे, जबकि कुल जनसंख्या अनुमानत: 1,433 मिलियन थी। इसका मतलब है कि लगभग 43 प्रतिशत आबादी एक सक्रिय इंटरनेट उपयोगकर्ता है रिपोर्ट में कहा गया है कि 10 सक्रिय उपयोगकर्ताओं में से नौ ने दैनिक आधार पर इंटरनेट का उपयोग किया और औसतन लगभग 107 मिनट ऑनलाइन बिताए। इसमें कहा गया है कि ग्रामीण और शहरी भारत दोनों में, मनोरंजन, संचार और सोशल मीडिया (social media) के उपयोग के लिए इंटरनेट का सबसे अधिक उपयोग किया जाता है।2025 तक, सक्रिय इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या 900 मिलियन से अधिक होने की उम्मीद है।रिपोर्ट में यह भी कहा गया है, "राज्य स्तर पर, महाराष्ट्र में सक्रिय इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की सबसे अधिक पहुंच है, इसके बाद गोवा और केरल का स्थान है, जबकि बिहार में सबसे कम पहुंच है।" ग्रामीण इंटरनेट उपयोगकर्ता आधार शहरी से आगे निकलने के लिए तैयार होने के बावजूद, ग्रामीण भारत में इंटरनेट की पहुंच अभी भी शहरी क्षेत्रों की तुलना में कम है।रिपोर्ट के अनुसार, ग्रामीण आबादी 948 मिलियन है, जिसमें से केवल 299 मिलियन (लगभग 32 प्रतिशत) सक्रिय इंटरनेट उपयोगकर्ता हैं।इसकी तुलना में, शहरी आबादी 485 मिलियन है, जिसमें से 323 मिलियन (लगभग 67 प्रतिशत) सक्रिय इंटरनेट उपयोगकर्ता हैं। इसके अलावा, शहरी क्षेत्रों में ग्रामीण क्षेत्रों की तुलना में इंटरनेट की पहुंच दोगुनी से अधिक है।जहां 94 प्रतिशत शहरी इंटरनेट उपयोगकर्ता प्रतिदिन इंटरनेट का उपयोग करते हैं, वहीं ग्रामीण भारत में यह आंकड़ा 90 प्रतिशत है। अध्ययन में यह भी पाया गया कि शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों में महिलाओं की तुलना में पुरुष इंटरनेट उपयोगकर्ता अधिक हैं। “भारत में 58% पुरुष इंटरनेट उपयोगकर्ता और 42% महिला इंटरनेट उपयोगकर्ता हैं। शहरी भारत में पुरुष से महिला का अनुपात 57:43 है और ग्रामीण भारत में 58:42 है।मोबाइल फोन ने देश में इंटरनेट उपयोग वृद्धि में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है क्योंकि सभी सक्रिय इंटरनेट उपयोगकर्ताओं ने इंटरनेट का उपयोग करने के लिए मोबाइल डिवाइस का उपयोग किया है।
बिस्वप्रिया भट्टाचार्जी, कांतार के कार्यकारी उपाध्यक्ष, अंतर्दृष्टि प्रभाग ने कहा"इसे देखते हुए, इस उभरती हुई जनसांख्यिकी की विशिष्ट आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए डिजिटल पारिस्थितिकी तंत्र को विकसित करने की आवश्यकता होगी," “भारतीय भाषाओं में उपलब्ध इंटरनेट सेवाएं, जो आवाज के उपयोग की अनुमति देती हैं और वीडियो विकल्प प्रदान करती हैं, "अगले कुछ वर्षों में डिजिटल पारिस्थितिकी तंत्र के लिए गेम चेंजर के रूप में उभरेंगी"। पिछले छह वर्षों में, भारत के वायरलेस टेलीडेंसिटी (wireless teledensity) में 24 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, जो कि कई विकसित अर्थव्यवस्थाओं जैसे अमेरिका (America) (16 प्रतिशत) , कनाडा (Canada) (15 प्रतिशत), फ्रांस (France) (9 प्रतिशत), जर्मनी (Germany) (5 प्रतिशत) और ऑस्ट्रेलिया (Australia) (4 प्रतिशत) से भी अधिक है।
दूरसंचार सेवा क्षेत्र का सकल राजस्व वित्त वर्ष 2013-14 के दौरान 2,33,815 करोड़ रुपये से बढ़कर वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान 2,52,825 करोड़ रुपये हो गया। जिसमें 8 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि हुयी। इसके अलावा, सकल घरेलू उत्पाद में दूरसंचार क्षेत्र का योगदान 2014 में 6.1 प्रतिशत से बढ़कर 2019 में 6.5 प्रतिशत हो गया, दूरसंचार क्षेत्र ने कोविड - 19 महामारी और दूरसंचार स्पेक्ट्रम (spectrum) नीलामी के दौरान सकल घरेलू उत्पाद का 30 प्रतिशत सक्षम किया। ट्राई की सिफारिशों ने सरकार को ₹3,25,000 करोड़ से अधिक का शुद्ध लाभ दिया है। डेटा उपयोग के संदर्भ में, प्रति ग्राहक डेटा उपयोग 2014 में 3GB से बढ़कर 2020 में 141GB हो गया, 2014 के बाद से 46 गुना की वृद्धि हुयी। डेटा टैरिफ 2014 में ₹269 प्रति जीबी से गिरकर 2020 में लगभग ₹11 प्रति जीबी हो गया है, जो 25 गुना कम है।हमारे टैरिफ दुनिया में सबसे कम हैं, जो मेगा टेलीकॉम ऑपरेटरों (mega telecom operators) और उनके बीच तीव्र प्रतिस्पर्धा द्वारा सक्षम हो पाया है। कम टैरिफ दरों ने देश में इंटरनेट टेलीडेंसिटी (internet teledensity) बढ़ाने, व्यवसायों की सहायता करने और विशाल आबादी को जोड़ने, अर्थव्यवस्था के विकास का मार्ग प्रशस्त करने में मदद की।

संदर्भ:
https://bit.ly/3sW2KTm
https://bit.ly/3GofpUu
https://bit.ly/3z2csav

चित्र संदर्भ

1. इंटरनेट से पढाई करते ग्रामीण बच्चों को दर्शाता एक चित्रण ( American India Foundation)
2. मोबाइल चलाते बच्चे को दर्शाता एक चित्रण (PixaHive)
3. फ़ोन में बात करती महिला को दर्शाता एक चित्रण (flickr)
4. कंप्यूटर सीखती बालिकाओं को दर्शाता एक चित्रण (flickr)

RECENT POST

  • टोक्सोप्लाज़मोसिज़ गोंडी- एक ऐसा  परजीवी जो चूहों और इंसानों को भयमुक्त कर सकता है
    कोशिका के आधार पर

     29-11-2022 10:37 AM


  • प्राचीन काल में अनुमानित तरीके से, इस तरह होता था, शरीर की ऊंचाई और जमीन का मापन
    सिद्धान्त I-अवधारणा माप उपकरण (कागज/घड़ी)

     28-11-2022 10:24 AM


  • अरब की भव्य इमारतें बहुत देखी होंगी आपने, पर क्या कभी अरबी शादी भी देखी ?
    सिद्धान्त 2 व्यक्ति की पहचान

     27-11-2022 12:21 PM


  • प्रदूषण और कोहरा मिलकर बड़ा रहे है, हमारे शहरों में अँधेरा
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     26-11-2022 10:53 AM


  • भारतीय किसानों को अधिक दूध के साथ-साथ अतिरिक्त लाभ भी पंहुचा सकती हैं, चारा फसलें
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     25-11-2022 10:49 AM


  • किसी भी व्यवसाय के सुख-दुःख का गहराई से विश्लेषण करती पुस्तक
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     24-11-2022 11:07 AM


  • पहनावे और सुगंध का संयोजन, आपको भीड़ में भी सबसे अलग पहचान दिलाएगा
    गंध- ख़ुशबू व इत्र

     23-11-2022 10:50 AM


  • कैसे कर रहे हैं हमारे देश के आदिवासी समुदाय पवित्र वनों का संरक्षण?
    जंगल

     22-11-2022 10:45 AM


  • भारतीय बाजार में टेलीविजन की बढ़ती मांग को पूरा करेंगे, भारतीय टेलीविज़न निर्माता
    संचार एवं संचार यन्त्र

     21-11-2022 10:37 AM


  • शून्य-गुरुत्वाकर्षण में इस टी-हैंडल की हरकतें आपको भी हैरान कर देंगी
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     20-11-2022 12:54 PM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id