विश्वभर में मौलिद ईद उल मिलाद की धूम

मेरठ

 18-10-2021 11:32 AM
विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

ईश्वर अथवा अल्लाह हमारे सबसे बड़े शुभचिंतक होते हैं। उसने हमें जीवन दिया है, वही हमारा भरण पोषण कर रहा है। किंतु उसने हमें ऐसे बहुत कम अवसर दिए हैं, जब उसके प्रति अपना आभार प्रकट कर सकें। ऐसे ही कुछ चुनिंदा अवसरों में मुहम्मद पैगम्बर का जन्मदिन, मौलिद (ईद उल मिलाद) भी है जिसे दुनियाभर के मुस्लिम समुदाय में भरपूर श्रद्धा और धूमधाम से मनाया जाता है।
दुनिया भर में, पैगंबर मुहम्मद का जन्मदिन, मौलिद अल-नबी, रबी अल-अव्वल महीने के बारहवें दिन मनाया जाता है। जन्मदिन के समारोहों में , प्रार्थना सेवाओं, कविताओं और मुकदमों के पाठ के साथ ही साथ धार्मिक सभाएं आयोजित की जाती हैं। भारत जैसे, बड़ी मुस्लिम आबादी वाले देश सहित कई मुस्लिम बहुल देशों में, मौलिद अल-नबी को एक प्रमुख सार्वजनिक अवकाश के तौर पर घोषित किया जाता है। हालाँकि कुछ मुस्लिम संप्रदाय इस अनुष्ठान में भाग लेने से इनकार करते हैं, उनका मानना है कि यह एक नवाचार है जो पैगंबर पर मानव के रूप में बहुत अधिक जोर देता है और दुनिया को उनके सच्चे दिव्य स्रोत से विचलित करता है। आमतौर पर इस पाक अवसर को दुनियाभर के मुसलमान अपने घरों में मानते हैं, साथ ही कई अपनी स्थानीय मस्जिद को रोशनी से सजाते हैं, और बड़े उत्सवों का आयोजन करते हैं। इस दौरान भोजन साझा करना, पैगंबर के जीवन और गुणों के बारे में व्याख्यान करना, सलावत प्रार्थना सेवाएं, मार्च में भाग लेना और कुरान का पाठ करने सहित मुक़दमे और पैगंबर की भक्ति कविता का पाठ करने जैसे अनुष्ठान किये जाते हैं। पाकिस्तान जैसे मुस्लिम राष्ट्रों में रबी अल-अव्वल के पूरे महीने को पैगंबर के "जन्म महीने" के रूप में मनाया जाता है। सिंगापुर में, मावलिद (ईद उल मिलाद) एक दिवसीय त्योहार होता है, जिसमें अक्सर स्थानीय मस्जिदों में नियमित प्रार्थना और व्याख्यान के अलावा गरीब बच्चों और अनाथों के लिए विशेष "जन्मदिन की पार्टियां" आयोजित की जाती हैं। काहिरा स्थित अजहर स्क्वायर ईद उल मिलाद के सबसे बड़े समारोहों में से एक है, जिसमें दो मिलियन से अधिक मुसलमान भाग लेते हैं। 1994 में, पियोरिया स्थित नक्शबंदिया फाउंडेशन फॉर इस्लामिक एजुकेशन (NFIE) द्वारा आयोजित शिकागो, इलिनोइस (Chicago, Illinois) में विश्व का पहला अंतर्राष्ट्रीय मावलिद अल-नबी सम्मेलन आयोजित किया गया था। इस इस्लामिक आध्यात्मिक सम्मेलन में उत्तरी अमेरिका और विदेशों से 1200 से अधिक लोगों ने भाग लिया।
दुनियाभर में इस अवसर पर कुछ इस्लामी केंद्र बच्चों के लिए विशेष कार्यक्रम आयोजित करते हैं, जहां वे पैगंबर के चरित्र और जीवन के बारे में ज्ञान अर्जित करते हैं। यहाँ बच्चे अक्सर निबंध या स्किट (Skit) तैयार करते हैं जो मुहम्मद के जीवन में महत्वपूर्ण शिक्षाओं या घटनाओं को प्रस्तुत करते हैं। पैगंबर को मुसलमानों द्वारा इब्राहीम विश्वास को दुनिया में फैलाने के लिए अल्लाह द्वारा भेजे गए अंतिम दूत के रूप में सम्मानित किया जाता है। गैर-मुसलमानों के लिए, उन्हें इस्लाम का संस्थापक माना जाता है। मान्यता है की, पैगंबर का जन्म वर्ष 570 सीई में हुआ था। यह अवसर इस्लामिक चंद्र कैलेंडर के तीसरे महीने रबी अल-अव्वल के12 वें दिन मनाया जाता है, पैगंबर मुहम्मद का जन्मदिन दुनिया भर में मौलिद के नाम से मनाया जाता है। कुछ मुस्लिम देशों जैसे सऊदी अरब और कतर जैसे अधिक रूढ़िवादी देशों में, इस प्रथा को नहीं मनाया जाता है, हालांकि कई अन्य देशों में उनका जन्मदिवस पारंपरिक तौर तरीकों के साथ मनाया जाता है। जैसे:
1. लीबिया में इस उपलक्ष्य के उत्सव से पहले महिलायें घर की सजावट का सामान और खिलौने खरीदती है। साथ ही धार्मिक अवकाश का जश्न मनाते हुए जुलूस में का आयोजन किया जाता है।
2. भारत के कश्मीर के सबसे पवित्र तीर्थस्थल, श्रीनगर, में हजरतबल में भक्तों को पारंपरिक नाश्ता परोसा जाता है।
3. मिश्र और काहिरा में इस दौरान मिठाई विक्रेताओं की धूम रहती है। मिस्र में, कैंडी की दुकानें पारंपरिक मौलिद (जन्म) दुल्हन" तैयार करती हैं, जो शक्कर के पेस्ट से बनी एक मूर्ति होती है, जिसे बाद में कागज़ की स्कर्ट, चमक और कपड़े के फूलों से तैयार किया जाता है। परंपरा के अनुसार, गुड़ियों को युवा पुरुषों द्वारा अपने मंगेतर को सूखे मेवे और नौगट से बनी अन्य पारंपरिक मिठाइयों के साथ पेश किया जाता है।
4.इराक के उत्तरी शहर अकरा में, एक सूफी अनुष्ठान को प्राथमिकता दी जाती है। 5. तुर्की के बर्सा शहर में पैगंबर मुहम्मद के उत्सव के दौरान करबास वेली दरवेश लॉज में प्रदर्शन करते हैं।
5. नबलू की गलियों में पैगंबर मुहम्मद के जीवन और व्यक्तित्व की प्रशंसा में पुरुष भक्ति गीत गाते हैं।

संदर्भ
https://bit.ly/2r9bqss
https://bit.ly/2NL9HkG
https://bit.ly/3p5Wqrl
https://bit.ly/30ujyWi

चित्र संदर्भ
1. मलेशिया में मौलिद पैगंबर मुहम्मद का जन्मदिन के अवसर का एक चित्रण (wikimedia)
2. अंतर्राष्ट्रीय मौलिद सम्मेलन, मीनार-ए-पाकिस्तान, लाहौर, पाकिस्तान, का एक चित्रण (wikimedia)
3. इंडोनेशिया में सेकाटेन मेला, मावलिद का एक सप्ताह तक चलने वाले उत्सव, का एक चित्रण (persee.fr)
4. मौलिद संगी (wikimedia)

RECENT POST

  • कहां है सात समंदर पार जहां जाने से पूर्व गांधीजी को करने पड़े थे 3 प्रसिद्द वादे
    समुद्र

     03-12-2021 07:29 PM


  • हिन्दी और उर्दू भाषा के कौन से अद्भुत शब्द है जिनका अंग्रेजी में अनुवाद नहीं किया जा सकता ?
    ध्वनि 2- भाषायें

     03-12-2021 11:06 AM


  • अमेरिका में पृथ्वी पर जंगली बाघों और तेंदुए की तुलना में कहीं अधिक हैं पालतू जानवर के रूप में
    निवास स्थान

     02-12-2021 08:44 AM


  • भारत और ब्रिटेन में चुनावी समानताएं एवं अंतर
    आधुनिक राज्य: 1947 से अब तक

     01-12-2021 09:04 AM


  • अंग्रेजी शब्द कोष में Bungalow व् Verandah शब्दों की उत्पत्ति हुई भारतीय मूल से
    ध्वनि 2- भाषायें

     30-11-2021 10:33 AM


  • हमारे मेरठ और यूरोप के आयरलैंड के बीच मौजूद रहे है कई आकर्षक संबंध
    मध्यकाल 1450 ईस्वी से 1780 ईस्वी तक

     29-11-2021 09:00 AM


  • 1997 में मिस वर्ल्ड का खिताब जीतने वाली तीसरी भारतीय महिला थी,डायना हेडन
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     28-11-2021 01:11 PM


  • ख़ुशी नहीं, आनंद है जीवन का सबसे बड़ा लक्ष्य
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     27-11-2021 10:31 AM


  • रोमांचक खेल, बर्फ पर स्कीइंग का इतिहास
    य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

     26-11-2021 10:22 AM


  • प्राचीन भारतीय शिक्षा प्रणाली
    ठहरावः 2000 ईसापूर्व से 600 ईसापूर्व तक

     25-11-2021 09:42 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id