सार्वभौमिकता या इंसानियत के संदेश को समझने का सबसे अच्छा माध्यम है, संगीत

मेरठ

 15-08-2021 11:35 AM
आधुनिक राज्य: 1947 से अब तक
सार्वभौमिकता या इंसानियत के संदेश को अगर किसी भाषा में सबसे अच्छा समझा जा सकता है, तो वो है संगीत की भाषा। विश्व संगीत ने आज अनेकों अंतरराष्ट्रीय सहयोगों को आकार दिया है तथा इसके लिए हमें इंटरनेट को धन्यवाद देना चाहिए। तो चलिए आज हम विश्व संगीत के क्षेत्र में कुछ अग्रणी कार्यों पर फिर से विचार करें। इनमें 1985 का गीत "वी आर द वर्ल्ड" (We are the World) और 1990 का संगीत एल्बम "वन वर्ल्ड, वन वॉयस" (One World, One Voice) शामिल हैं। इन दोनों प्रयासों के लिए, 40 से अधिक देशों के कुछ बेहतरीन संगीतकार विश्व संगीत को बनाने और उन्हें चलाने के लिए एक साथ आगे आए। “वी आर द वर्ल्ड" एक चैरिटी सिंगल है, जिसे मूल रूप से 1985 में अफ्रीका (Africa) के लिए सुपरग्रुप यूएसए (USA) द्वारा रिकॉर्ड किया गया था। यह माइकल जैक्सन (Michael Jackson) और लियोनेल रिची (Lionel Richie) द्वारा लिखा गया था और एल्बम वी आर द वर्ल्ड के लिए क्विंसी जोन्स (Quincy Jones) और माइकल ओमार्टियन (Michael Omartian) द्वारा निर्मित किया गया था। 200 लाख से भी अधिक प्रतियों की बिक्री के साथ यह अब तक का आठवां सबसे अधिक बिकने वाला भौतिक एकल है। इसी प्रकार से 1990 में, संगीत के दिग्गज केविन गोडले (Kevin Godley) और रूपर्ट हाइन (Rupert Hine) ने पहली वास्तविक विश्व संगीत रचना को रिकॉर्ड करने और फिल्माने का निर्णय लिया। रिकॉर्डिंग इंजीनियर स्टीफन डब्ल्यू टायलर (Stephen W Tayler), फोटोग्राफी के निदेशक जो डायर (Joe Dyer) और परियोजना निर्माता एंडी वार्ड (Andy Ward) के साथ उन्होंने तीन महीने तक दुनिया की यात्रा की। उन्होंने इस अनूठी महत्वाकांक्षी परियोजना में अपनी प्रतिभा और आवाज जोड़ने के लिए दुनिया के सैकड़ों महान संगीतकारों को आमंत्रित किया। जिसके परिणामस्वरूप एक म्यूजिकल चेन टेप “वन वर्ल्ड वन वॉयस” का निर्माण हुआ जिसमें एक जरूरी संदेश दिया गया कि हम सब एक ही दुनिया हैं और संगीत हम सब की वह एक आवाज है, जिसे हम आपस में साझा करते हैं। तो आइए आज स्वतंत्रता दिवस के मौके पर इन दो वीडियो के जरिए सुंदर संदेशों वाले इन संगीतों का आनंद प्राप्त करें।
संदर्भ:
https://bit.ly/37H1Wqv
https://bit.ly/3jVI5JW
https://bit.ly/3xQguOZ

RECENT POST

  • मेरठ का 300 साल पुराना शानदार अबू का मकबरा आज बकरियों का तबेला बनकर रह गया है
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     28-06-2022 08:15 AM


  • ब्लास्ट फिशिंग से होता न सिर्फ मछुआरे की जान को जोखिम, बल्कि जल जीवों को भी भारी नुकसान
    मछलियाँ व उभयचर

     27-06-2022 09:25 AM


  • एक पौराणिक जानवर के रूप में प्रसिद्ध थे जिराफ
    शारीरिक

     26-06-2022 10:08 AM


  • अन्य शिकारी जानवरों पर भारी पड़ रही हैं, बाघ केंद्रित संरक्षण नीतियां
    निवास स्थान

     25-06-2022 09:49 AM


  • हम में से कई लोगों को कड़वे व्यंजन पसंद आते हैं, जबकि उनकी कड़वाहट कई लोगों के लिए सहन नहीं होती
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     24-06-2022 09:49 AM


  • भारत में पश्चिमी शास्त्रीय संगीत धीरे-धीरे से ही सही, लेकिन लोकप्रिय हो रहा है
    ध्वनि 1- स्पन्दन से ध्वनि

     23-06-2022 09:30 AM


  • योग शरीर को लचीला ही नहीं बल्कि ताकतवर भी बनाता है
    य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

     22-06-2022 10:23 AM


  • प्रोटीन और पैसों से भरा है कीड़े खाने और खिलाने का व्यवसाय
    तितलियाँ व कीड़े

     21-06-2022 09:54 AM


  • कृत्रिम बुद्धिमत्ता गलत सूचना उत्पन्न करने और साइबरसुरक्षा विशेषज्ञों के साथ छल करने में है सक्षम
    संचार एवं संचार यन्त्र

     20-06-2022 08:51 AM


  • विस्मयकारी है दो जंगली भेड़ों के बीच का हिंसक संघर्ष
    व्यवहारिक

     19-06-2022 12:13 PM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id