टोक्यो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करते मेरठ के खिलाडियों को हमारी शुभकामनायें

मेरठ

 24-07-2021 10:18 AM
द्रिश्य 2- अभिनय कला

टोक्यो ओलंपिक 23 जुलाई, 2021 से प्रारम्भ हो चुका है, जो 8 अगस्त, 2021 में सम्पन्न होगा। यह हमारे लिए बहुत खुशी की बात है, कि इस साल के टोक्यो ओलंपिक में भारत से 127 प्रतिभागियों ने क्वालीफाई किया है।यूं तो टोक्यो ओलंपिकमूल रूप से 2020 में आयोजित होने वाले थे, लेकिन कोविड- 19 के कारण इसे 2021 में स्थगित किया गया। पिछले सभी वर्षों की तुलना में भारत से प्रतिभाग करने वाले प्रतिभागियों की संख्या में इस वर्ष फिर से वृद्धि हुई है। 2016 के रियो ओलंपिक में भारत से 117 प्रतिभागियों ने भाग लिया था, तथा इस वर्ष यह संख्या 126 जा पहुंची है। इन प्रतिभागियों में पहलवान विनेश फोगट, तीरंदाज दीपिका कुमारी, शटलर पीवी सिंधु, भाला खिलाड़ी नीरज चोपड़ा, निशानेबाजी सनसनी सौरभ चौधरी और मनु भाकर आदि शामिल हैं, जिन पर इस बार देश की निगाहें टिकी हैं। भारत के अलावा, टोक्यो ओलंपिक में 205 अन्य राष्ट्र भाग लेंगे और खेल में 18 राष्ट्र ऐसे हो सकते हैं, जिनके प्रतिभागियों की संख्याभारत की तुलना में अधिक हो सकती है।आइए एक नज़र डालते हैं उन सभी देशों पर जो टोक्यो ओलंपिक में भारत के सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ 126 से बड़े दल के साथ टोक्यो ओलंपिक में पहुंचे हैं:
1. संयुक्त राज्य अमेरिका (America)ने टोक्यो ओलंपिक में 630 खिलाड़ियों को भेजकर सूची में शीर्ष स्थान हासिल किया है।
2. इसके बाद प्रतिभागियों की सबसे अधिक संख्या जापान (Japan) से है, जिन्होंने 552 प्रतिभागी भेजे हैं
3. 469 प्रतिभागियों के साथ ऑस्ट्रेलिया (Australia)
4. 425 प्रतिभागियों के साथ जर्मनी (Germany)
3.414 प्रतिभागियों के साथ चीन (China)
6. 384 प्रतिभागियों के साथ इटली (Italy)
7.376 प्रतिभागियों के साथ ब्रिटेन (Britain)
8.371 प्रतिभागियों के साथ कनाडा (Canada)
9. 335 प्रतिभागियों के साथ रूस (Russia)
10. 257 प्रतिभागियों के साथ नीदरलैंड (Netherlands)
11. 236 प्रतिभागियों के साथ दक्षिण कोरिया (South Korea)
12. 223 प्रतिभागियों के साथ न्यूजीलैंड (New Zealand)
13. अर्जेंटीना (Argentina) से 172
14. मिस्र (Egypt) से 131
15. मैक्सिको (Mexico) से 163
16. पोलैंड (Poland) से 216
17. दक्षिण अफ्रीका (South Africa) से 159
18. यूक्रेन (Ukraine) से 156 प्रतिभागी टोक्यो ओलंपिक में प्रतिभाग करने पहुंचे हैं।
19. ऐसे कई राष्ट्र हैं, जहां से मुश्किल से 5 प्रतिभागी टोक्यो पहुंचे हैं। जैसे ब्रुनेई (Brunei) से 2 प्रतिभागी, अरूबा (Aruba) से एक प्रतिभागी, चाड (Chad) से चार प्रतिभागी, लाओस (Laos) से चार प्रतिभागी,ज़िम्बाब्वे (Zimbabwe) से तीन प्रतिभागी ही टोक्यो ओलंपिक में शामिल हुए हैं।<br>
भारत के 29 राज्यों में से 8 राज्य(बिहार, गोवा, जम्मू-कश्मीर, अरुणाचल प्रदेश आदि) ऐसे हैं, जिनका टीम के 127 सदस्यों में कोई प्रतिनिधित्व नहीं है। अरुणाचल प्रदेश फुटबॉल और पर्वतारोहण के लिए सबसे लोकप्रिय है। इसके अलावा राज्य मार्शल आर्ट के लिए भी जाना जाता है। कराटेका जॉनी मंगखिया (karateka Johny Mangkhiya) राज्य के सबसे प्रशंसित खिलाड़ियों में से एक है तथा2018 में, वह एशियाई खेलों (Asian Games) में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली अरुणाचल प्रदेश की पहली खिलाड़ी भी बनी थी। लेकिन राज्य से कोई भी प्रतिभागी टोक्यो ऑलंपिक में शामिल नहीं हुआ है।
इसी प्रकार से शूटर श्रेयसी सिंह बिहार राज्य से हैं और हाल ही में उन्होंने दिल्ली में आयोजित आईएसएसएफ शूटिंग विश्व कप (ISSF Shooting World Cup) में महिला ट्रैप टीम इवेंट में स्वर्ण पदक जीता था। उन्होंने गोल्ड कोस्ट (Gold Coast)में 2018 कॉमनवेल्थ खेलों (Commonwealth Games)में निशानेबाजी में स्वर्ण पदक जीता था और ग्लासगो (Glasgow)में 2014 कॉमनवेल्थ खेलों में रजत पदक भीजीता था। लेकिन इस बार वे टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने में नाकाम रहीं।
छत्तीसगढ़ की रिमिल बुरुली ने लक्ष्मी रानी मांझी और दीपिका कुमारी के साथ महिला टीम तीरंदाजी में 2016 रियो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया था। वह कोपेनहेगन (Copenhagen)में 2015 विश्व तीरंदाजी चैंपियनशिप में रजत विजेता टीम का भी हिस्सा थीं, लेकिन बुरुली इस साल क्वालीफाई करने में विफल रही। गोवा फुटबॉल के लिए अपने प्यार के कारण प्रसिद्ध है, लेकिन गोवा के एथलीट इस बार टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई नहीं कर सके हैं।मेघालय में भी फुटबॉल और मार्शल आर्ट को बहुत पसंद किया जाता है, लेकिन यहां से भी कोई एथलीट टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाया है।इसका कारण शहरी अवसरों की कमी को माना जा सकता है, जो राज्य में नवोदित एथलीटों को आगे बढ़ने से रोकती हैं।
हमारे राज्य उत्तर प्रदेश से टोक्यो ओलंपिक में13 प्रतिभागी शामिल हुए हैं,जिनमें से कई मेरठ से हैं।यह ध्यान देना महत्वपूर्ण है कि भारत की आबादी दुनिया की आबादी का लगभग 17% (दुनिया का 1/6) है, लेकिन फिर भी टोक्यो ओलंपिक में प्रतिभागियों की कुल संख्या लगभग 1.5% ही है।
भारत के भीतर, उत्तर प्रदेश भारत की आबादी का लगभग 16% (भारत का 1/6) हिस्सा बनाता है और यह 10% प्रतिभागियों को भेज रहा है।टोक्यो ओलंपिक के लिए उत्तर प्रदेश से भेजे गए कुल 13 खिलाड़ियों में से 9 खिलाड़ीराष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (National Capital Region -NCR) के चार जिलों मेरठ, बुलंदशहर, गौतमबुद्धनगर और मुजफ्फरनगर से हैं।एथलीट विभिन्न क्षेत्रों जैसे भाला फेंक, डिस्कस थ्रो, निशानेबाजी आदि से सम्बंधित हैं। मेरठ जिले ने पांच पदक दावेदारों को टोक्यो भेजा है, जिसके बाद बुलंदशहर का नंबर है, जहां से 3 प्रतिभागी टोक्यो ओलंपिक में शामिल हुए हैं। मेरठ से शामिल हुए प्रतिभागियों में प्रसिद्ध शूटर सौरभ चौधरी तथा प्रसिद्ध हॉकी खिलाड़ी वंदना कटारिया भी शामिल हैं।मेरठ को पहले तक केवल क्रिकेट उपकरणों के निर्माण के लिए मुख्य केंद्र के रूप में जाना जाता था, किंतु अब यह उन क्रिकेट खिलाडियों के लिए भी जाना जाने लगा है, जो मेरठ से सम्बंधित हैं। इसका एक उदाहरण भुवेनश्वर कुमार हैं, जिन्होंने अपने क्रिकेट की शुरूआत मेरठ से की। इस प्रकार मेरठ खेल जगत में भी अपना जादू दिखाकर विश्व स्तर पर अपनी एक अलग पहचान बना रहा है।

संदर्भ:
https://bit.ly/3wVJUe8
https://bit.ly/3rxODlq
https://bit.ly/2V3UDpT
https://bit.ly/3hUrZ3l
https://bit.ly/3eCroRV
https://bit.ly/3zgCkMI

चित्र संदर्भ
1. टोक्यों ओलिंपिक में मेरठ के प्रतिभागी शूटर सौरभ चौधरी का एक चित्रण (forbs)
2. राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद 25 सितंबर, 2018 को राष्ट्रपति भवन, नई दिल्ली में एक शानदार समारोह में निशानेबाजी के लिए सुश्री श्रेयसी सिंह को अर्जुन पुरस्कार, 2018 प्रदान करते हुए।एक चित्रण (wikimedia)
3. टोक्यो ओलिंपिक के लिए भारतीय महिला टीम का एक चित्रण (newsnation)



RECENT POST

  • ऑनलाइन गेमिंग से पैसे की चमक कहीं जीवन भर का अंधकार न बन जाए
    हथियार व खिलौने

     27-09-2021 11:46 AM


  • तालाब या जलीय पारिस्थितिकी तंत्र के लिए एक महत्वपूर्ण कड़ी है, वाटर फ्ली
    कीटाणु,एक कोशीय जीव,क्रोमिस्टा, व शैवाल

     26-09-2021 12:06 PM


  • डिजिटलीकरण की तीव्रता के साथ साइबर सुरक्षा और इसके नियमन की है अत्यधिक आवश्यकता
    संचार एवं संचार यन्त्र

     25-09-2021 10:16 AM


  • पौधों के विकास में सूक्ष्मजीवों की वही भूमिका है जो है स्वस्थ इंसानों में प्रोबायोटिक्स की
    कीटाणु,एक कोशीय जीव,क्रोमिस्टा, व शैवाल

     24-09-2021 09:11 AM


  • कैंसर का इतिहास व् उपचार, कैसे कम किया जाए कैंसर विकास के जोखिम को
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     23-09-2021 11:08 AM


  • सिर ढकने के लिए छत ढूँढना कोई हर्मिट केकड़े से सीखे
    मछलियाँ व उभयचर

     22-09-2021 09:01 AM


  • जब कंपनी पेंटिंग ने आधुनिक कैमरा का काम किया
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     21-09-2021 09:42 AM


  • वृक्ष संरक्षण अधिनियम के उद्देश्य व अतिक्रमण से बचाव के उपाय
    पेड़, झाड़ियाँ, बेल व लतायें

     20-09-2021 09:26 AM


  • दुनिया की सबसे बड़ी अपतटीय तेल आपदा है, पाइपर अल्फा प्लेटफॉर्म में हुआ विस्फोट
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     19-09-2021 12:31 PM


  • मेरठ छावनियों में आज भी मौजूद हैं कुछ शुरुआती अंग्रेजी बंगले
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     18-09-2021 10:18 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id