आधुनिक कला में अतियथार्थवाद (Surrealism)

मेरठ

 31-03-2019 07:10 AM
द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

अतियथार्थवाद (Surrealism) 1920 के दशक की शुरुआत में यूरोप से प्रारंभ होने वाला एक सांस्कृतिक आंदोलन है और इसे अपनी दृश्य कलाकृतियों और लेखन के लिए जाना जाता है। दृश्य कला के क्षेत्र में स्वप्न का चित्रण करने वाले एक समूह को अतियथार्थवादी कहा गया है, इन कलाकारों ने इस क्षेत्र में वास्तविक यथार्थवाद का अनुभव किया। इन कलाकारों ने फोटोग्राफिक परिशुद्धता (Photographic Precision) के साथ अनावश्यक, अतार्किक दृश्यों को चित्रित किया। कला की इस शैली में एक ओर तर्क के शीतल और शुष्क हथियार तथा इसके विपरीत दूसरी ओर अर्धचेतन और स्वप्न के संसार के विचारों का जादू है। इन दोनों विरोधी बातों को स्वप्न और वास्तविकता से मिलाकर एक रूप देने का उद्देश्य अति यथार्थवादी चित्रकारों का था। यही भावना इन चित्रकारों की कलाकृतियों का आधार है। इस समूह के कलाकारों में हांस आर्प (Hans Arp) जर्मन (German) , अरनेस्ट (Max Ernst) फ्रेंच (French) के अतिरिक्त स्पेन के सालवेडर डाली (Salvador dali), रूस के मार्क चैगल (mark Chagall) आदि थे। इस शैली में विषय का विशेष महत्व था। इस शैली के चित्रकारों ने रोजमर्रा के उपयोग में आने वाली वस्तुओं से अजीब जीव और आकृतियाँ बनायीं। इन चित्रकारों के चित्रों में वस्तुओं की अपेक्षा वस्तुओं की आकृतियाँ अधिक महत्वपूर्ण थी।

ऊपर दिए गये चित्र क्रमशः सालवेडोर डाली के द्वारा चित्रित दी एलीफैंट जिराफ (The Elephant Giraffe), दी बर्निंग जिराफ़ (The बर्निंग Giraffe) हैं। ऊपर दिए गये विडियो (Video) में सालवेडोर डाली (Salvador dali) की कलाकृतियों का आभासी वास्तविकता (Virtual Reality) के जरिये प्रदर्शित किया गया है तो आइये देखते है सालवेडोर डाली के सपनों की दुनिया पर आधारित ये चलचित्र (Video) जिसका नाम है ड्रीम्स ऑफ़ डाली (Dreams Of Dali) और जिसे बनाया है द डाली म्यूजियम (The Dali Museum) ने

विडियो का सन्दर्भ:
निर्माता: डाली म्यूजियम (Dali Museum)
ध्वनि: ऐलिस कूपर (Alice Cooper)
चित्र सन्दर्भ:
1. https://en.wikipedia.org/wiki/Salvador_Dal%C3%AD
2. https://www.Amazon.com/



RECENT POST

  • सदियों से फैशन के बदलते रूप को प्रदर्शित करती हैं, फ़यूम मम्मी पोर्ट्रेट्स
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     28-11-2020 07:10 PM


  • वृक्ष लगाने की एक अद्भुत जापानी कला बोन्साई (Bonsai)
    पेड़, झाड़ियाँ, बेल व लतायें

     28-11-2020 09:03 AM


  • गंध महसूस करने की शक्ति में शहरीकरण का प्रभाव
    गंध- ख़ुशबू व इत्र

     27-11-2020 08:34 AM


  • विशिष्ट विषयों और प्रतीकों पर आधारित है, जैन कला
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     26-11-2020 09:05 AM


  • सेना में बैंड की शुरूआत और इसका विस्‍तार
    द्रिश्य 2- अभिनय कला

     25-11-2020 10:26 AM


  • अंतिम ‘वस्तुओं’ के अध्ययन से सम्बंधित है, ईसाई एस्केटोलॉजी
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     24-11-2020 08:13 AM


  • क्वांटम कंप्यूटिंग को रेखांकित करते हैं, क्वांटम यांत्रिकी के सिद्धांत
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     22-11-2020 10:22 AM


  • धार्मिक महत्व के साथ-साथ ऐतिहासिक महत्व से भी जुड़ा है, श्री औघड़नाथ शिव मन्दिर
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     22-11-2020 08:16 PM


  • हिन्‍दू-मुस्लिम की एकता का प्रतीक हज़रत शाहपीर की दरगाह
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     21-11-2020 06:25 AM


  • व्यवसायों और उद्यमशीलता को महत्वपूर्ण रूप से प्रभावित करते हैं, प्रवासी नागरिक
    सिद्धान्त 2 व्यक्ति की पहचान

     20-11-2020 09:33 PM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id