राजपूत कुलों में उपयोग किए जाने वाले जहरीले बाघ नख

लखनऊ

 07-11-2021 10:42 AM
हथियार व खिलौने

उस समय की कई परस्पर विरोधी रिपोर्टें हैं जिसमें बाग नख पहली बार दिखाई दिया। राजपूत कुलों द्वारा हत्याओं के लिए जहरीले बाघ नख का इस्तेमाल किया गया था। इस हथियार का सबसे प्रसिद्ध उपयोग पहले मराठा नेता शिवाजी द्वारा किया गया था जिन्होंने बीजापुर जनरल अफजल खान को मारने के लिए बिचुवा और बाग नख का इस्तेमाल किया था। यह निहंग सिखों के बीच एक लोकप्रिय हथियार है जो इसे अपनी पगड़ी में पहनते हैं और अक्सर दाहिने हाथ में तलवार जैसे बड़े हथियार को लेकर अपने बाएं हाथ में एक को पकड़ते हैं। यह अनुशंसा की जाती है कि खतरनाक क्षेत्रों में अकेले जाने पर निहंग महिलाएं बाघ नख ले जाएं। निहंगों के पास कई पारंपरिक हथियार भी हैं जिनमें से एक शेर-पंजा है जो बाघ नख से ही प्रेरित है। शेर पंजा उंगलियों में गैप के बीच में जाने के बजाय कलाई और उंगलियों के ऊपर से चला जाता है और पंजे बाहर निकल आते हैं। जबकि अक्सर चोरों और हत्यारों के साथ जुड़ा हुआ था, बाग नख का इस्तेमाल पहलवानों द्वारा नकी का कुश्ती या "पंजा कुश्ती" नामक लड़ाई के रूप में भी किया जाता था, जो ब्रिटिश (British) औपनिवेशिक शासन के तहत भी जारी रहा। 1864 में बड़ौदा का दौरा करने वाले एम. रूसेलेट (M. Rousselete) ने "नाकी-का-कौस्‍ती" को राजा के मनोरंजन के पसंदीदा रूपों में से एक बताया। हथियार, एक प्रकार के हैंडल में लगे होते थे, जो बंद दाहिने हाथ में पेटी द्वारा बांधे जाते थे। भांग या भारतीय भांग के नशे में धुत पुरुष एक-दूसरे पर झपट पड़े और बाघों की तरह चेहरे और शरीर को फाड़ दिया; माथे की खाल कतरों की तरह लटक गयी थी; गर्दन और पसलियां खुली रखी गई थीं, और कभी-कभी एक या दोनों की मौत नहीं होती थी। इन मौकों पर शासक का उत्साह अक्सर इस कदर बढ़ जाता था कि वह द्वंद्ववादियों की हरकतों की नकल करने से खुद को मुश्किल से रोक पाता था।

संदर्भ:
https://bit.ly/2ZTD7aa



RECENT POST

  • 1999 में युक्ता मुखी को मिस वर्ल्ड सौंदर्य प्रतियोगिता का ताज पहनाया गया
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     28-11-2021 01:04 PM


  • भारत में लोगों के कुल मिलाकर सबसे अधिक मित्र होते हैं, क्या है दोस्ती का तात्पर्य?
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     27-11-2021 10:17 AM


  • शीतकालीन खेलों के लिए भारत एक आदर्श स्थान है
    य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

     26-11-2021 10:26 AM


  • प्राचीन भारत के बंदरगाह थे दुनिया के सबसे व्यस्त बंदरगाहों में से एक
    ठहरावः 2000 ईसापूर्व से 600 ईसापूर्व तक

     25-11-2021 09:43 AM


  • धार्मिक किवदंतियों से जुड़ा हुआ है लखनऊ के निकट बसा नैमिषारण्य वन
    छोटे राज्य 300 ईस्वी से 1000 ईस्वी तक

     24-11-2021 08:59 AM


  • कैसे हुआ सूटकेस का विकास ?
    य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

     23-11-2021 11:18 AM


  • गंगा-जमुनी लखनऊ के रहने वालों का जीवन और आपसी रिश्तों का सुंदर विवरण पढ़े इन लघु कहानियों में
    सिद्धान्त 2 व्यक्ति की पहचान

     22-11-2021 09:59 AM


  • पर्यटकों को सबसे अधिक आकर्षित करता है, दुबई फाउंटेन
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     21-11-2021 11:03 AM


  • विभिन्न धर्मों और संस्कृतियों में पवित्र वृक्ष मनुष्य और ईश्वर के बीच का मार्ग माने जाते हैं
    पेड़, झाड़ियाँ, बेल व लतायें

     20-11-2021 11:11 AM


  • सर्वाधिक अनुसरित, आध्यात्मिक शिक्षक गुरु नानक देव जी का जन्मदिन
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     19-11-2021 09:37 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id