महामारी के कारण स्थगित क्रिकेट टूर्नामेंट का क्रिकेट अर्थव्यवस्था पर गंभीर प्रभाव

लखनऊ

 15-06-2021 08:49 PM
य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

हालांकि सही मायनों में हॉकी (Hockey) हमारा राष्ट्रीय खेल है लेकिन पिछले कुछ दशकों में भारत में क्रिकेट की लोकप्रियता काफी बढ़ चुकी है और संपूर्ण विश्व में भारतीय क्रिकेट में विशालकाय प्रगति ने पुराने औपनिवेशिक युग के पदानुक्रम को समाप्त कर दिया है। यह आर्थिक शक्ति के राजनीतिक प्रभावों का एक बहुत ही दृश्यमान प्रदर्शन है, जहां विशाल बाजार आकार उत्तोलन के नए रूपों का निर्माण करता है।और क्रिकेट की राजनीति में भारत की नई प्रमुखता अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी - ICC) के भीतर उसके प्रभुत्व का उदाहरण है, यह बताता है कि कैसे एक अधिक शक्तिशाली भारत वैश्विक राजनीति में अपनी भविष्य की भूमिका के लिए संपर्क कर सकता है।भारत में क्रिकेट के विकास को साम्राज्य-संबंधी इतिहास से अलग नहीं किया जा सकता। अंग्रेजों ने 18 वीं शताब्दी की शुरुआत में खेल की शुरुआत की, भारतीय खिलाड़ियों ने 19 वीं शताब्दी में क्रिकेट क्लबों (Club) की स्थापना की, और 1928 में खेल को नियंत्रित करने के लिए एक राष्ट्रीय बोर्ड - भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (Board of Control for Cricket in India–बीसीसीआई (BCCI))का गठन किया।
बीसीसीआई ने भारत को इंपीरियल क्रिकेट सम्मेलन (इंपीरियल क्रिकेट सम्मेलन) के रूप में जाना जाने वाले संचालक निकाय से जोड़ा, जिसे बाद में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के रूप में पुनर्गठित किया गया। विश्व में शायद कोई दूसरा बाजार नहीं होगा जहां एक खेल को हर चीज से अधिक मायने में रखा जाता हो। तो 21वीं सदी की शुरुआत में ऐसा क्या हुआ जिससे भारत का क्रिकेट में उत्थान संभव हुआ? तीन चीजें: भारतीय अर्थव्यवस्था में वृद्धि हुई;भारतीय टेलीविजन (Television) ने तेजी से विस्तार किया और खुद को पूरी तरह से वाणिज्यीकरण किया; और भारतीय क्रिकेट ने एक नईअधिक प्रसारण-अनुकूल लीग (League) बनाई।इनमें से प्रत्येक विकास ने आईसीसी के व्यावसायीकरण को सुदृढ़ किया, जिसने बदले में भारतीय क्रिकेट के वाणिज्यीकरण को अधिक लाभ दिया।जिसके परिणाम में भारत आईसीसी छत्र के तहत उत्पन्न राजस्व का 70 से 80 प्रतिशत का स्रोत बन गया।और हाल ही में जारी किए गए वित्तीय वर्ष, 2014 के लिए, ICC का विश्वव्यापी आयोजन-संबंधी राजस्व लगभग $ 196 मिलियन था। यद्यपि भारत ने 1991 में अपने आर्थिक सुधारों की शुरुआत की थी, लेकिन 2003 तक भारतीय अर्थव्यवस्था ने अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के आंकड़ों का उपयोग करते हुए, 2007 में लगभग आठ प्रतिशत और लगभग 10 प्रतिशत को छूते हुए निरंतर उच्च विकास की शुरुआत की।भारत का उपभोक्ता बाजार भारत के मध्यम वर्ग के साथ बढ़ा। भारतीय व्यवसाय फलने-फ के साथ-साथ वैश्विक हो गए, और प्रमुख विज्ञापनदाता बन गए, जिसके प्रमाणस्वरूपक्रिकेट, आबादी के बड़े हिस्से तक पहुँचने के साधन के रूप में, बढ़ते विज्ञापन बजट (Budget) से लाभान्वित हुआ। कोविड -19 (Covid-19) महामारी ने विश्व भर में क्रिकेट को बाधित कर दिया है, महामारी का प्रभाव लगभग सभी खेलों में देखने को मिल सकता है। दुनिया भर में और अलग-अलग स्तर के लिए, लीग (League) और प्रतियोगिताओं को रद्द या स्थगित कर दिया गया है।जुलाई 2020 में, अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी- ICC) ने घोषणा की कि आईसीसीपुरुष T20 विश्व कप के 2020 और 2021 दोनों संस्करण को महामारी के कारण एक वर्ष के लिए स्थगित कर दिया गया था।इसलिए, 2020 के टूर्नामेंट (Tournament) को नवंबर 2021 में स्थानांतरित कर दिया गया था, और 2021 के टूर्नामेंट को अक्टूबर 2022 में स्थानांतरित कर दिया गया था।2023 क्रिकेट विश्व कप को भी नियोजित की तुलना में आठ महीने बाद होने के लिए पुनर्निर्धारित किया गया था, टूर्नामेंट अक्टूबर और नवंबर 2023 में स्थानांतरित हो गया था।ऑस्ट्रेलिया (Australia) और भारत ने टूर्नामेंट की मेजबानी के अधिकार बरकरार रखे, आईसीसी ने 8 अगस्त को घोषणा की कि भारत 2021 टूर्नामेंट की मेजबानी करेगा, और ऑस्ट्रेलिया 2022 टूर्नामेंट की मेजबानी करेगा।साथ ही 8 अगस्त को, ICC ने पुष्टि की कि 2021 महिला क्रिकेट विश्व कप और टूर्नामेंट के क्वालीफायर (Qualifier) को महामारी के कारण एक वर्ष के लिए स्थगित कर दिया गया था।कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी ने कई अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट तिथि- निर्धारण और टूर्नामेंटों पर प्रभाव डाला। महामारी के कारण अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के आर्थिक संरचना में बदलाव की संभावना है और निचले क्रम के देशों को धन की कमी का सामना करना पड़ सकता है।खेल निकायों के लिए प्रमुख राजस्व सृजन टेलीविजन प्रसारण अधिकारों के लाइसेंस के माध्यम से है।
खेल आयोजनों में ठहराव के साथ, यह संभावना है कि अधिकांश खेल निकायों को वित्तीय नुकसान का सामना करना पड़ेगा। भारतीय क्रिकेट को अपेक्षाकृत बेहतर स्थिति में रखा जा सकता है। वेस्टइंडीज (West Indies), बांग्लादेश (Bangladesh) और श्रीलंका (Sri Lanka) जैसे छोटे देशों को चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है यदि उनके संबंधित मीडिया (Media) अनुबंधों का नवीनीकरण नहीं किया जाता है।वहीं भारतीय खेल राजस्व का बड़ा हिस्सा प्रसारण और प्रायोजन से आता है, जिसमें क्रमशः 65% और 30% का योगदान होता है, जबकि अन्य बाजारों के विपरीत, टिकटिंग (Ticketing) राजस्व केवल 5% है। टिकट से होने वाले राजस्व में इस 5% का एक बहुत महत्वपूर्ण अनुपात आईपीएल (IPL) मैचों (Match) के लिए टिकटों की बिक्री के माध्यम से भी उत्पन्न होता है।2019 में क्रिकेट के लिए 1.9 बिलियन अमरीकी डालर के राजस्व से, लगभग 72% प्रसारण से आया। प्रायोजन ने 20% का योगदान दिया और मैच केटिकटिंगसे लगभग 8% आया था। भारतीय क्रिकेट राजस्व का अनुमान कुल क्रिकेट राजस्व का 45%यानि 862.5 मिलियन अमरीकी डालर है, जिसमें 75% आईपीएल से आता है। एक गैर-आईसीसी आयोजन वर्ष में, भारतीय क्रिकेट राजस्व का हिस्सा कम से कम 10% -15% तक बढ़ जाता है। एकरिपोर्ट (Report) के अनुसार, भारत विश्व क्रिकेट अर्थव्यवस्था में एक प्रमुख खिलाड़ी है। इन दोनों प्रतियोगिता के बारे में वर्तमान अनिश्चितता के साथ, यह एक काल्पनिक परिदृश्य बना हुआ है। क्रिकेट विश्व कप और आईपीएल दोनों के रद्द होने से इस साल क्रिकेट अर्थव्यवस्थापर गंभीर प्रभाव पड़ेगा।मार्च की शुरुआत से क्रिकेट बंद है और यह स्पष्ट नहीं है कि खेल कब फिर से शुरू होगा। ईसीबी (ECB) ने कहा है कि अगर इस गर्मी में क्रिकेट नहीं होता है तो उन्हें30 करोड़ डॉलर से अधिक का नुकसान होगा।वहीं खेल की दुनिया इस स्थिति पर कैसे प्रतिक्रिया देती है, यह काफी हद तक निर्धारित करेगा कि प्रभाव को कैसे कम किया जा सकता है।

संदर्भ :-

https://bit.ly/3iIFowk
https://bit.ly/3gmpAO5
https://bit.ly/3gyq5DM
https://bit.ly/3wrBawR
https://bit.ly/3iHgj4M

चित्र संदर्भ
1. खाली क्रिकेट मैदान तथा कोरोना वायरस का एक चित्रण (Flickr)
2. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के लोगो का एक चित्रण (flickr)
3. सभी स्टेडियमों के स्थान जो वर्तमान में भारतीय राष्ट्रीय टीम द्वारा उपयोग किए जाते हैं जिसका एक चित्रण (wikimedia)



RECENT POST

  • बच्चों को खेल खेल में, दैनिक जीवन में गणित के महत्व को समझाने की जरूरत
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     21-05-2022 11:09 AM


  • भारत में जैविक कृषि आंदोलन व सिद्धांत का विकास, ब्रिटिश कृषि वैज्ञानिक अल्बर्ट हॉवर्ड द्वारा
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     20-05-2022 10:03 AM


  • लखनऊ की वृद्धि के साथ हम निवासियों को नहीं भूलना है सकारात्मक पर्यावरणीय व्यवहार
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     19-05-2022 09:47 AM


  • एक समय जब रेल सफर का मतलब था मिट्टी की सुगंध से भरी कुल्हड़ की स्वादिष्ट चाय
    म्रिदभाण्ड से काँच व आभूषण

     18-05-2022 08:47 AM


  • उत्तर प्रदेश में बौद्ध तीर्थ स्थल और उनका महत्व
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     17-05-2022 09:52 AM


  • देववाणी संस्कृत को आज भारत में एक से भी कम प्रतिशत आबादी बोल व् समझ सकती है
    ध्वनि 2- भाषायें

     17-05-2022 02:08 AM


  • बाढ़ नियंत्रण में कितने महत्वपूर्ण हैं, बीवर
    व्यवहारिक

     15-05-2022 03:36 PM


  • प्रारंभिक पारिस्थिति चेतावनी प्रणाली में नाजुक तितलियों का महत्व, लखनऊ में खुला बटरफ्लाई पार्क
    तितलियाँ व कीड़े

     14-05-2022 10:09 AM


  • लखनऊ सहित विश्व में सबसे पुराने और शानदार स्विमिंग पूलों या स्नानागारों का इतिहास
    य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

     13-05-2022 09:41 AM


  • भारत में बढ़ती गर्मी की लहरें बन रही है विशेष वैश्विक चिंता का कारण
    जलवायु व ऋतु

     11-05-2022 09:10 PM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id