भारत ने मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता का खिताब छह बार अपने नाम किया, पहली बार 1966 में रीता फारिया ने

जौनपुर

 28-11-2021 12:59 PM
द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य
मिस वर्ल्ड एक ऐसी अंतरराष्ट्रीय सौंदर्य प्रतियोगिता है, जो काफी पुराने समय से चली आ रही है। इस सौंदर्य प्रतियोगिता का निर्माण 29 जुलाई 1951 को एरिक मॉर्ले (Eric Morley) द्वारा यूनाइटेड किंगडम (United Kingdom) में किया गया था। इस प्रतियोगिता का आदर्श वाक्य 'ब्यूटी विद ए पर्पस' (Beauty with a Purpose) है तथा यह मिस यूनिवर्स (Miss Universe), मिस अर्थ (Miss Earth) और मिस इंटरनेशनल (Miss International) के साथ चार बड़ी अंतरराष्ट्रीय सौंदर्य प्रतियोगिताओं में से एक है।यह उपाधि दृष्टिकोण, सौंदर्य, बुद्धि, परिश्रम, संवेदनशीलता,व्यक्तित्व आदि के आधार पर दी जाती है। भारत ने यह खिताब छह बार अपने नाम किया है।पहला खिताब वर्ष 1966 में लंदन (London) के लिसेयुम बॉलरूम (Lyceum Ballroom) में रीता फारिया द्वारा जीता गया था। 28 वर्षों के अंतराल के बाद,1994 में भारत ने सन सिटी, दक्षिण अफ्रीका (Sun City, South Africa) में ऐश्वर्या राय के माध्यम से दूसरी बार जीत हासिल की।भारत ने 3 साल बाद 1997 में बाई लज़ारे, सेशेल्स (Baie Lazare, Seychelles) में आयोजित मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता में तीसरी बार खिताब अपने नाम किया, जिसमें डायना हेडन को विश्व सुंदरी चुना गया। 1999 में,लंदन में आयोजित प्रतियोगिता में भारत ने चौथी बार यह खिताब जीता,जिसमें युक्ता मुखी को विश्व सुंदरी का ताज पहनाया गया। पांचवां खिताब वर्ष 2000 में प्रियंका चोपड़ा द्वारा जीता गया था,तथा यह प्रतियोगिता लंदन में आयोजित की गयी थी। इसके बाद छठा खिताब 17 साल बाद 2017 में मानुषी छिल्लर द्वारा जीता गया, जो चीन (China) में सान्या सिटी एरिना (Sanya City Arena) में आयोजित किया गया था। 1966 में आयोजित मिसवर्ल्ड प्रतियोगिता की विजेता रीता फारिया मुंबई से थी, जो उस समय सोनीपत के भगत फूल सिंह गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज फॉर विमेन (Bhagat Phool Singh Government Medical College for Women) से मेडिकल की पढ़ाई कर रही थीं।तो चलिए इन वीडियो के माध्यम से 1966 और 1967 में हुई मिस वर्ल्ड प्रतियोगिताओं के अंतिम दृश्यों पर एक नजर डालें।

संदर्भ:
https://bit.ly/3p7b1B8
https://bit.ly/3xr8eGG
https://bit.ly/3ld7bW3


RECENT POST

  • 8वीं शताब्दी की भव्य बौद्ध संरचना है, इंडोनेशिया में स्थित बोरोबुदुर मंदिर
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     03-07-2022 11:01 AM


  • कैसे उठें मौत के खौफ से ऊपर ?
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     02-07-2022 10:10 AM


  • जगन्नाथ रथ पर्व के अवसर पर जानिए जगन्नाथ पुरी के रथों की उल्लेखनीय निर्माण प्रक्रिया
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     01-07-2022 10:29 AM


  • पूर्वोत्तर राज्य नागालैंड की प्राकृतिक सुंदरता व नागा जनजातियों की विविध जीवनशैली का दर्शन
    सिद्धान्त 2 व्यक्ति की पहचान

     30-06-2022 08:40 AM


  • कोविड सहित मंकीपॉक्स रोग के दोहरे बोझ से बचने के लिए जरूरी उपाय करना आवश्यक है
    कोशिका के आधार पर

     29-06-2022 09:22 AM


  • शानदार शर्की वास्तुकला की गवाही देती हैं, अटाला सहित जौनपुर की अन्य खूबसूरत मस्जिदें
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     28-06-2022 08:21 AM


  • फैशन जगत में अपना एक नया स्‍थान बना रहा है मछली का चमड़ा
    मछलियाँ व उभयचर

     27-06-2022 09:29 AM


  • शरीर पर घने बालों के साथ भयानक ताकत और स्वभाव वाले माने जाते थे गोरिल्ला
    शारीरिक

     26-06-2022 10:13 AM


  • सिकुड़ते प्राकृतिक आवासों के बीच, गैर बर्फीले क्षेत्रों के अनुकूलित हो रहे हैं, ध्रुवीय भालू
    निवास स्थान

     25-06-2022 09:58 AM


  • क्या वास्तव में फ्रोज़न खाद्य पदार्थ की बढ़ती लोकप्रियता ने बदल दिया है भारतीय खाद्य उद्योग को?
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     24-06-2022 09:52 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id